Header Ads Widget

ताज़ा

6/recent/ticker-posts

सैकंड वेव के बाद BCCI सख्त : बायो बबल से खिलाड़ी के बाहर जाते ही 7 दिन रहना होगा क्वारंटीन, कोरोना ऑफिसर की रियल टाइम निगरानी रहेगी


Bio-Bubble-IPL
Image | the sports whiskey

आईपीएल का 14 वां सीजन 9 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है। देश में कोरोना की सैकंड वेव को देखते हुए बीसीसीआई ने कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने का डिसीजन लिया है। इसके लिए बायो बबल में मौजूद हर प्लेयर पर बकायदा जीपीएस डिवाइस से निगरानी रखी जाएगी। इसके साथ ही, पूरी लीग के लिए हर टीम के साथ 4-4 कोरोना आॅफिसर्स होंगे जो टीम के प्लेयर्स पर रियल टाइम नजर रखेंगे। आईपीएल का पहला मैच 9 अप्रैल को पिछले सीजन की चैंपियन मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच होना है। फाइनल 30 मई को होगा।


रिस्टबैंड या चेन से बायो बबल का एरिया जान पाएंगे खिलाड़ी 

खिलाड़ी बायो बबल क्षेत्र में रहते हैं और उस क्षेत्र को नहीं छोड़ते हैं जो निर्धारित किया गया है। सभी खिलाड़ियों को नज़र रखने के लिए एक ट्रैकिंग डिवाइस प्रदान किया जाएगा। डिवाइस एक रिस्टबैंड या चेन के रूप में होगा जो खिलाड़ी हमेशा होटल के कमरे से बाहर निकलते समय पहनते हैं। यह डिवाइस खिलाड़ियों को जाने-अनजाने में बायो बबल को रोकने में मदद करेगा। इससे खिलाड़ियों को पता चल जाएगा कि उन्हें किन स्थानों पर जाना है और कौन से स्थान बायो बबल के तहत आते हैं। जैसे ही खिलाड़ी बायो बबल क्षेत्र से बाहर होंगे, यह उपकरण ध्वनि करेगा और खिलाड़ियों को सतर्क किया जाएगा।


बायो बबल टूटने पर क्वारंटाइन को फिर से 7 दिनों तक रहना होगा

यह डिवाइस सेंट्रल पैनल से जुड़ा होगा। यह बोर्ड को यह जानने की अनुमति देगा कि कौन से खिलाड़ी बायो बबल का उल्लंघन कर रहे हैं। बायो बबल के उल्लंघन के कारण खिलाड़ियों को 7 दिनों के लिए फिर से क्वारंटीन रहना होगा।  बायो-बबल में प्रवेश केवल तभी दिया जाएगा जब कोरोना रिपोर्ट खिलाड़ी की निगेटिव आई हो।


पिछली बार ब्रिटेन की एक कंपनी ने डिवाइस करया था मुहैया 

यूएई में आईपीएल के पिछले सीज़न के दौरान, यूके कंपनी ने रिस्टबैंड के रूप में एक ट्रैकिंग डिवाइस प्रदान किया था। इस बार, खिलाड़ियों को अब तक ऐसा उपकरण नहीं मिला है। आईपीएल प्रबंधन के अनुसार, डिवाइस जल्द ही सभी टीमों के सभी सदस्यों को प्रदान किया जाएगा।







Like and Follow us on :

Facebook

Instagram
Twitter
Pinterest
Linkedin
Bloglovin

Post a Comment

0 Comments