Header Ads Widget

ताज़ा

6/recent/ticker-posts

5 राज्यों में नई सरकार इसी हफ्ते तैयार :बंगाल में ममता 5 मई को सीएम पद की शपथ लेंगी, तमिलनाडु में स्टालिन ने बुलाई MLA मीटिंग

बंगाल में ममता 5 मई को सीएम पद की शपथ लेंगी
ANI

5 राज्यों (पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल, असम और पुडुचेरी) में हुए विधानसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं। अब यहां नई सरकार के गठन की तैयारी तेज हो गई है। इस सप्ताह सभी राज्यों में सरकार बनेगी। रविवार को आए नतीजों के मुताबिक, बंगाल में टीएमसी, असम में बीजेपी, तमिलनाडु में डीएमके, केरल में कम्युनिस्ट और पुदुचेरी में एनडीए का गठन होना है। आईए आपको बता दें कि किस राज्य में, कब और कैसे सरकार बनने जा रही है। 


पश्चिम बंगाल: ममता ने राज्यपाल से की मुलाकात

पश्चिम बंगाल: ममता ने राज्यपाल से की मुलाकात
ANI


विधानसभा चुनावों में बड़ी जीत हासिल करने के बाद ममता बनर्जी तीसरी बार 5 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी। राज्य के मंत्री और वरिष्ठ टीएमसी नेता पार्थ चटर्जी ने सोमवार को इसकी घोषणा की। टीएमसी को 214 सीटें मिली हैं। हालांकि, ममता बनर्जी खुद नंदीग्राम सीट से चुनाव हार गई हैं। टीएमसी बहुमत के कारण सरकार बनाएगी। शाम को ममता बनर्जी ने राज्यपाल से भी मुलाकात की।


हालांकि, 66 वर्षीय ममता बनर्जी को फिर से एक सीट से चुनाव लड़ना पड़ सकता है। इससे पहले, 20 मई 2011 को ममता ने पहली बार 20 मई 2011 को और दूसरी बार 27 मई 2016 को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। शायद ममता एक हफ्ते के भीतर बंगाल में नई सरकार भी बनाएंगी।


तमिलनाडु:  एमके स्टालिन 7 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे 

एमके स्टालिन 7 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे
ANI


एमके स्टालिन की द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) ने यहां विधानसभा चुनावों में 234 में से 130 सीटें जीती हैं। पार्टी गठबंधन ने अब तक 156 सीटें जीत ली हैं। बहुमत के जादुई आंकड़े को पार करने के बाद, मंगलवार शाम 6 बजे DMK विधायकों की बैठक आयोजित की गई है। पार्टी महासचिव दुरई मुरुगन ने बताया कि यह बैठक चेन्नई में पार्टी के मुख्यालय अन्ना आर्युलायम में आयोजित की गई है। इस बैठक में, DMK विधायक आधिकारिक रूप से एमके स्टालिन को मुख्यमंत्री के रूप में चुनेंगे। इसके बाद विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को दिया जाएगा। एमके स्टालिन 7 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।


असम: मुख्यमंत्री तय नहीं ; ताज सोनोवाल को या बिस्वा को मिलेगी कमान

ताज सोनोवाल को या बिस्वा को मिलेगी कमान
ANI


यहां विधानसभा चुनावों में भाजपा ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की है। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कड़ी मेहनत की थी, लेकिन पार्टी के पास एक और बड़ा चेहरा है। यह चेहरा हेमंत बिस्वा सरमा का है। हेमंत कांग्रेस में रहते हुए मुख्यमंत्री नहीं बन पाए। यही कारण है कि उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी और भाजपा में शामिल हो गए। अब देखना यह है कि दोनों में से किसे मुख्यमंत्री बनाया जाता है। पार्टी इनमें से एक डिप्टी सीएम भी बना सकती है।


इस बार भाजपा गठबंधन को 126 विधानसभा सीटों के साथ असम में 75 सीटें मिली हैं। 2016 की तुलना में एक सीट अधिक है। कांग्रेस को 50 सीटों से ही संतोष करना पड़ा। बीजेपी ने असम गण परिषद (एजीपी) और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) के साथ यहां चुनाव लड़ा। दूसरी ओर, कांग्रेस ने AIUDF, BPF, CPI (M), CPI, CPI (ML), AGM और RJD के साथ मिलकर अपने उम्मीदवार उतारे।


केरल: विजयन राज्यपाल से मिले

विजयन राज्यपाल से मिले
ANI


केरल में शानदार जीत हासिल करने के बाद मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने सोमवार को राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की कार्यकारी परिषद में सरकार के गठन पर निर्णय होगा। पार्टी सूत्रों के अनुसार, महामारी को देखते हुए सरकार गठन का काम इस सप्ताह पूरा हो जाएगा।


वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (LDF) ने मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के नेतृत्व में पूरा चुनाव लड़ा। LDF में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के साथ 12 अन्य दल भी शामिल हैं। एलडीएफ ने यहां बहुमत से अधिक 92 सीटें जीती हैं। वहीं, कांग्रेस गठबंधन को 39 सीटें मिली हैं।


पुडुचेरी: रंगास्वामी दूसरी बार मुख्यमंत्री होंगे

पुडुचेरी: रंगास्वामी दूसरी बार मुख्यमंत्री होंगे
ANI


एक छोटे केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में पहली बार एनडीए सरकार बनने जा रही है। यहां अखिल भारतीय एनआर कांग्रेस यानी AINRC की अगुवाई में बीजेपी का और एआईडीएमके ने 16 सीटें जीतीं और पूर्ण बहुमत हासिल किया। इस तरह, मुख्यमंत्री का पद AINRC के अध्यक्ष एन. रंगास्वामी संभालेंगे। रंगास्वामी दूसरी बार पुडुचेरी के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। आज शाम पार्टी विधायकों की बैठक हुई। इसमें शपथ ग्रहण समारोह की रूपरेखा तय की गई। 


यहां AINRC ने 10 सीटें, भाजपा ने पहली बार 6 सीटें जीती हैं। वहीं, कांग्रेस को दो और डीएमके को 6 सीटें मिली हैं। 6 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते। यहां इस साल फरवरी में कांग्रेस सरकार अल्पमत के कारण गिर गई। तब से राष्ट्रपति शासन लागू है। 2016 में बहुमत के साथ सरकार बनाने वाली कांग्रेस इस बार बहुत पीछे रह गई। पिछली बार कांग्रेस को 15 सीटें मिली थीं, इस बार यह आंकड़ा 2. तक पहुंच गया। हालांकि, कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन विपक्ष में रहेगा। दोनों में 8 सीटें हैं, जबकि निर्दलीय 6 जीते हैं।



mamata banerjee | west bengal cm mamata banerjee | oath ceremony | oath taking ceremony |  mk stalin oath taking ceremony | mamata banaerjee swearing ceremony | mamata banerjee latest | Pinarayi Vijayan | rangasamy | Puducherry




Like and Follow us on :

Facebook

Instagram

Twitter
Pinterest
Linkedin
Bloglovin

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां