Header Ads Widget

ताज़ा

6/recent/ticker-posts

Malala Yousafzai ने कहा शादी की रस्म जरूरी क्यों, पार्टनरशिप क्यों नहीं हो सकती, जानिए जिसे पूरी दुनिया से शोहरत मिली, वो अपने ही देश में कैसे हो गई पराई

    

Malala Yousafzai ने कहा शादी की रस्म जरूरी क्यों
Credit: Courtesy Vogue


ब्रिटेन की मशहूर मैगजीन वोग को दी गई नोबेल पुरस्कार विजेता Malala Yousafzai के इंटरव्यू को लेकर पाकिस्तान में बवाल मच गया है। दरअसल, इंटरव्यू में Malala ने शादी की रस्मों से असहमति जताई थी। 

उन्होंने कहा कि मुझे अभी भी समझ नहीं आ रहा है कि आखिर लोग शादी क्यों करते हैं? पार्टनर या लाइफ पार्टनर चाहिए तो उसके लिए कागज पर सिग्नेचर की क्या जरूरत? यह साझेदारी क्यों नहीं हो सकती?


मलाला का के इस बयाने पर अब पाकिस्तान में बवाल का रूप ले लिया है। मलाला ने रोमांस और पार्टनर के बारे में भी बात की। जिसके चलते पाक न्यूज चैनलों पर बवाल मच गया है।  

उनकी बातें और तर्क 90% लोगों पच नहीं पाए हैं।  इनमें माथिरा खान जैसी अभिनेत्रियां भी हैं। मलाला वर्तमान में ब्रिटेन के बर्मिंघम में रहती हैं और अब ऑक्सफोर्ड से स्नातक हैं।

Malala Yousafzai
Credit: Courtesy Nick Knight/Vogue


दुनिया की नजरों में कब आई मलाला

दिनांक- 9 अक्टूबर 2012, स्थान-मिंगोरा (स्वात घाटी, पाकिस्तान), समय- दोपहर 1 बजे के आसपास सशस्त्र तालिबानी आतंकवादियों ने लड़कियों की एक स्कूल बस को रोका और जबरन उसमें घुस गए। 

आतंकियो ने सवाल करते हैं - कौन हैं मलाला? जुबान से कोई नहीं बोलता, लेकिन सहमी लड़कियों की नजर इसी नाम की लड़की की तरफ हो जाती है। बस फिर कया था बन्दूक से गोली निकलती है और एक गोली उस मासूम लड़की के चेहरे पर लग जाती है। 

आनन फानन में उस घायल लड़की को पेशावर के आर्मी अस्पताल ले जाया जाता है, लेकिन बचने की उम्मीद कम होने के चलते एयर एंबुलेंस से उसे लंदन भेज दिया जाता है। बस इस घटना के बाद से मलाला दुनियां नजरों में छा जाती हैं। 


आज यह लड़की महिलाओं, बच्चों के हर अधिकार की आवाज बन चुकी है। यही हैं नोबेल पुरस्कार विजेता Malala Yousafzai। मलाला इस साल यानि 2021 में 12 जुलाई को 24 साल की होने वाली हैं। 

पाकिस्तान का एक उदार तबका इस दिन को 'मलाला दिवस' के रूप में मनाने की मांग कर रहा था, लेकिन तभी कुछ ऐसा हुआ कि मलाला देश के धार्मिक कट्टरपंथियों और आम लोगों की आंखों में चुभने लगीं। 

अब इस बात को समझतें हैं कि जिस मलाला को दुनिया में शोहरत ओर प्यार मिला वहीं मलाला अपने ही देश में विदेशी क्यों हो गई है।  


फिजा खां कहती हैं, 'मलाला अब बदल गई'


फिजा खां कहती हैं, 'Malala Yousafzai अब बदल गई'

टीवी एंकर फिजा खान ने हाल ही में अपने शो में कहा था कि मलाला बदल गई हैं। एक समय में उन्होंने लड़कियों की शिक्षा पर ध्यान केंद्रित किया। नाइजीरिया के आतंकवादी संगठन बोको हरम के स्कूल से 150 लड़कियों के अपहरण का विरोध किया। 

बराक और मिशेल ओबामा समेत कई हस्तियों से मुलाकात की। बहुत सम्मान और प्रसिद्धि अर्जित की, लेकिन आज मलाला जो कर रही हैं उसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है। 

स्वात प्रेस क्लब के पत्रकार शहजाद आलम कहते हैं- जब वह यहां थीं तो हम उन्हें बहुत प्यार करते थे। लेकिन वे इंग्लैंड जाकर बदल गईं हैं। लोग अब उनसे नफरत करने लगे हैं। 

मलाला के लिए पाकिस्तान से आतें हैं दौलतमंद लड़कों के रिश्ते


मलाला के लिए पाकिस्तान से आतें हैं दौलतमंद लड़कों के रिश्ते

मलाला ये मानती हैं कि उनकी मां भी उनके विचारों से सहमत नहीं हैं। पिता के पास पाकिस्तान से कई ई-मेल आते हैं, जिसमें मलाला से शादी करने वाले बताते हैं कि वे कितने अमीर हैं। मलाला के बयान पर उनके वालिद को भी सफाई देनी पड़ी है।  



अब मलाला के पास हर ऐश ओ आराम

मलाला अपना दिन वीडियो गेम खेलने और बागवानी करने में बिताती हैं। 15 साल की उम्र में उन्होंने 'मलाला फंड' की शुरुआत की थी। आज बर्मिंघम की पॉश लोकेशन में उनके पास आलीशान बंगला, कार और तमाम सुविधाएं हैं। 

17 साल की उम्र में नोबेल विनर बनी मलाला के पास पैसों की कोई कमी नहीं है। अब वे ब्रिटिश एक्सेंट में अंग्रेजी बोलतीं हैं। इसी साल वे परिवार के साथ वर्ल्ड टूर पर जाने वाली थीं, लेकिन महामारी ने सब गड़बड़ कर दिया। 

मुझे उम्मीद है कि मुझे भी कोई ऐसा मिले जो मुझे समझता हो....


मुझे उम्मीद है कि मुझे भी कोई ऐसा मिले जो मुझे समझता हो....

उन्होंने रिलेशनशिप पर भी खुलकर बात की। उन्होंने वोग मैगजीन से कहा- मैं कई लोगों से मिलती हूं। उनमें से कई बहुत अच्छे हैं। मुझे उम्मीद है कि मुझे भी कोई ऐसा मिले जो मुझे समझता हो और मुझे बेहद प्यार करता हो।

 जब उनसे पूछा गया कि उन्हें सबसे ज्यादा कौन पसंद करता है। तो मलाला का जवाब था- ब्रैड पिट। यह कह कर वे दोनों हाथों से अपना चेहरा छुपा लेती हैं।


 विवाद में आए मलाला के कुछ बयान

 Malala Yousafzai की बातों या बयानों से सिर्फ पाकिस्तानी ही नाराज नहीं हुए हैं। बल्कि नोबेल पुरस्कार मिलने के एक दिन बाद उन्होंने कश्मीर पर पर भी बयान में कहा था कि वहां के लोग और खासकर बच्चे घर से निकलने से डरते हैं। बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। इसके बाद भारत में उनके इस बयान का काफी विरोध हुआ था।


...मलाला में कुछ खास नहीं पाक में लाखों बच्चों ने मलाला से ज्यादा हमले झेले

फरवरी साल 2017 में फॉरेन पॉलिसी मैगजीन ने पाकिस्तानी लोगों से मलाला के बारे में बात की थी। उस दौरान यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर ने कहा- मलाला में कुछ खास नहीं है। 

पाकिस्तान में लाखों बच्चों को मलाला से भी ज्यादा गंभीर हमले झेलने पड़े। क्या पाकिस्तान में अमेरिकी ड्रोन हमलों के खिलाफ मलाला ने कभी आवाज उठाई है? 

अगर मलाला को इस देश की परवाह है तो वह यहां वापस क्यों नहीं आती? मलाला पर तालिबान का हमला महज एक एक सुनियोजित नाटक था। 2014 के Pew सर्वेक्षण में मलाला के समर्थकों की संख्या केवल 30% थी।

मलाला की बायोग्राफी I Am Malala के बदले एपीपीएसएफ का  I Am Not Malala कैंपेन


 मलाला की बायोग्राफी I Am Malala के बदले एपीपीएसएफ का  I Am Not Malala कैंपेन

'फॉरेन पॉलिसी' मैगजीन के मुताबिक मलाला को 2014 में नोबेल मिला था। इसके ठीक एक महीने बाद ऑल पाकिस्तान प्राइवेट स्कूल फेडरेशन ने एक घोषणा की, एक अभियान शुरू किया। 

इस संस्था के बैनर तले 1 लाख 50 हजार से ज्यादा स्कूल हैं। मलाला की आत्मकथा का नाम है- आई एम मलाला, और इस संगठन ने अभियान का नाम आई एम नॉट मलाल रखा है। 

खैबर-पख्तूनख्वा राज्य से मलाला का संबंध है, कई सांसदों और विधायकों ने पत्रिका से बातचीत में दावा किया था कि मलाला पर तालिबान का हमला 'पूर्व नियोजित' था। 

उनकी आत्मकथा पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई थी। दुनिया की बेस्ट सेलर 'आई एम मलाला' की भी कुछ ही प्रतियां पाकिस्तान में बिकी। वजह ये कि तालिबान और पुलिस दोनों ने इसे किताबों की दुकानों से हटा दिया था।


मलाला की बायोग्राफी I Am Malala


  • डॉ. शकील अफरीदी ने फर्जी पोलियो अभियान चलाकर लादेन के परिवार के ब्लड सैंपल लिए और इसी ब्लड का डीएनए टेस्ट सीआईए ने कराया‚ इसी से लादेन की पहचान हुई और वो मारा गया... आरोप है कि मलाला भी शकील के नक्शेकदम पर हैं


2013 में 'द डॉन' में प्रकाशित एक पोस्ट में कहा गया था- मलाला पर हमले की कहानी अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के मिशन का हिस्सा थी। गोली किसने चलाई? ये किसी को पता नहीं चला। 

कुछ लोगों का मानना ​​है कि मलाला भी पश्चिमी देशों के इसी तरह के मिशन का हिस्सा है, जिसके जरिए अमेरिका ओसामा बिन लादेन पहुंचा और इसके लिए उसने डॉ. शकील अफरीदी को मोहरा बनाया था। 

यह अफरीदी ही था जिसने फर्जी पोलियो अभियान चलाकर बिन लादेन के परिवार के खून के नमूने लिए थे। सीआईए ने इसका डीएनए टेस्ट किया। 

अफरीदी अभी भी जेल में है। 2013 में, मलाला ने अमेरिका स्थित पीआर फर्म एडेलमैन के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। इसने संदेह को मजबूत कर दिया किया। 

कहा जाता है कि मलाला को हर इंटरव्यू के लिए मोटी रकम मिलती है। जनवरी 2019 में, मलाला फंड ने शिक्षा विकास पर $ 1 मिलियन खर्च करने की घोषणा की थी।


एक ही ताना- आपने पाकिस्तान के लिए क्या किया?

'अल जजीरा' के मुताबिक- ज्यादातर पाकिस्तानी मलाला के बारे में पूछे गए सवालों का एक ही जवाब देते हैं। वे पूछते हैं - उन्होंने हमारे देश के लिए क्या किया? अगर उसे मानवाधिकारों की इतनी ही चिंता है तो वह अमेरिका में अश्वेतों के खिलाफ हिंसा पर क्यों नहीं बोलती? 

कश्मीर और फ़िलिस्तीन पर चुप क्यों है? पाकिस्तान आकर क्यों नहीं रहतीं। 2012 के बाद 2018 में सिर्फ एक बार पाकिस्तान आईं। सुना है अब जींस भी पहनने लगी है।

पाक पीएम इमरान ने तो अप्रत्यक्ष तौर बदन ढकने की दे डाली हिदायत


पाक पीएम इमरान ने तो अप्रत्यक्ष तौर पर बदन ढकने की दे डाली हिदायत

5 अप्रैल 2021 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक इंटरव्यू में कहा था- जिस समाज में अश्लीलता होगी, उसके बुरे नतीजे होंगे। इसके लिए भारत और हॉलीवुड जिम्मेदार हैं। महिलाओं को ऐसे कपड़े पहनने चाहिए जिनमें पूरा शरीर ढका हो।

 इमरान पहले भी बुर्का या अबाया पहनने की वकालत कर चुके हैं। 2014 में, उनकी ही पार्टी के विधायक मुसरत अहमद जेब ने दावा किया कि मलाला वेस्टर्न माइंडसेट की लड़की है और उस पर हमला करने के लिए एक नौटंकी बनाई गई थी। 

तालिबान ने उन पर अश्लीलता फैलाने का भी आरोप लगाया। मुझे भी इस नाटक में शामिल होने की पेशकश की गई थी, ले​किन मैंने इसे ठुकरा दिया था।



Malala Yousafzai | Malala Yousafzai biography | I Am Malala | vogue | malala yousafzai interview vogue | malala on marriage | malala yousafzai interview | malala yousafzai awards | malala yousafzai education | What is Malala Yousafzai fighting for | What has Malala done for human rights | 







Like and Follow us on :

Facebook

Instagram

Twitter
Pinterest
Linkedin
Bloglovin

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ