Header Ads Widget

ताजा खबरें

5/recent/ticker-posts

तालिबान शासन: कंगाली की ओर बढ़ रहे अफगानिस्तान को मदद, अमेरिका 471 करोड़ और यूएन 147.26 करोड़ की सहायता देगा

कंगाली की ओर बढ़ रहे अफगानिस्तान को मदद


संयुक्त राष्ट्र (यूएन) भुखमरी अफगानिस्तान में मानवीय सहायता के लिए 147.26 करोड़ रुपये प्रदान करेगा। वहीं, अफगानिस्तान मीडिया ने दावा किया है कि अमेरिका भी युद्धग्रस्त देश की 471 करोड़ रुपये से अधिक की मदद करने जा रहा है।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सोमवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में मानवीय मूल्यों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। जिनेवा में एक सम्मेलन में बोलते हुए, गुटेरेस ने कहा कि अफगानिस्तान के लोग दशकों के युद्ध, पीड़ा और असुरक्षा के बाद अपने सबसे खतरनाक समय का सामना कर रहे हैं। अब अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए उनके साथ खड़े होने का समय आ गया है।


अफगानिस्तान अपडेट -

विदेश मंत्री एस जयशंकर इस हफ्ते कजाकिस्तान की यात्रा पर जा सकते हैं। कजाकिस्तान को पाकिस्तान और तालिबान का दुश्मन देश माना जाता है। इसके साथ ही ताजिकिस्तान पंजशीर के लड़ाकों का भी समर्थन करता रहा है। अफगानिस्तान के हालिया हालात को देखते हुए भारतीय विदेश मंत्री का यह दौरा अहम माना जा रहा है.

सोमवार को तालिबान के डिप्टी पीएम मुल्ला अब्दुल गनी बरादर कतर के साथ बैठक में नहीं पहुंचे। अफवाहें सामने आईं कि वह अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के साथ एक मुठभेड़ के दौरान मारा गया था। 

हालांकि तालिबान ने जोर देकर कहा कि बरादार कंधार प्रांत में है, बरादार देश के भविष्य पर चर्चा करने के लिए समूह के सर्वोच्च नेता मौलवी हिबतुल्ला अखुंदजादा के साथ बैठक कर रहा है। बरादर और हक्कानी के बीच विवाद की भी खबरें चर्चा में हैं।


बागी नेता सालेह के घर मिली 18 सोने की ईंटें और 48 करोड़ रु

तालिबान ने अफगानिस्तान के पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह के घर से करीब 47.96 करोड़ रुपये (6.5 मिलियन डॉलर) और 18 सोने की ईंटें बरामद होने का दावा किया है। 

तालिबान के मुताबिक उसके पंजशीर पर कब्जा करने के बाद उसके लड़ाकों ने सालेह के ठिकाने पर कब्जा कर लिया है। तालिबान लड़ाकों ने एक वीडियो जारी कर इसकी पुष्टि की है।

इन वीडियो को तालिबान समर्थक अकाउंट से भी वायरल किया जा रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि चार-पांच तालिबान लड़ाके एक घर में घुस आए हैं. यहां इन लोगों ने घर की तलाशी ली। 

तलाशी के दौरान कई बैग बिखर गए। कुछ बोरे डॉलर के ढेर और सोने की ईंटों से भरे हुए थे। इससे पहले तालिबान अमरुल्ला सालेह के घर पहुंच गया था। उन्होंने सालेह की लाइब्रेरी में बैठकर तस्वीर भी जारी की।


सालेह के कजाकिस्तान भागने की सूचना

अशरफ गनी के 15 अगस्त को काबुल छोड़ने के बाद, सालेह ने खुद को अफगानिस्तान का राष्ट्रपति घोषित किया। सालेह एकमात्र नेता हैं जो वर्तमान में तालिबान के खिलाफ विद्रोही रुख अपना रहे हैं। उन्होंने पंजशीर में उत्तरी गठबंधन के प्रमुख अहमद मसूद से हाथ मिलाया है। 

हालांकि बताया जा रहा है कि पंजशीर पर तालिबान के हमले के बाद दोनों नेता कजाकिस्तान भाग गए हैं। तालिबान ने हाल ही में सालेह के बड़े भाई और पंजशीर के कमांडर रोहुल्लाह सालेह को मार गिराया था।


Taliban Afghanistan Kabul ISI Live Update | Panjshir News | Kashmir News | Pakistan | US Military Withdrawal | Afghan President Ashraf Ghani | 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ